क्रिप्टो करेंसी से पैसा कैसे कमाए?

दिन के व्यापार के फायदे और नुकसान

दिन के व्यापार के फायदे और नुकसान
यहां रखें गोमती चक्र

Astrology Tips: व्यापार में लगातार हो रहा है नुकसान तो घबराएं नहीं, आज ही कर लें ये उपाय और देखें कमाल!

दिन के व्यापार के फायदे और नुकसान

अस्वीकरण :
इस वेबसाइट पर दी की गई जानकारी, प्रोडक्ट और सर्विसेज़ बिना किसी वारंटी या प्रतिनिधित्व, व्यक्त या निहित के "जैसा है" और "जैसा उपलब्ध है" के आधार पर दी जाती हैं। Khatabook ब्लॉग विशुद्ध रूप से वित्तीय प्रोडक्ट और सर्विसेज़ की शैक्षिक चर्चा के दिन के व्यापार के फायदे और नुकसान लिए हैं। Khatabook यह गारंटी नहीं देता है कि सर्विस आपकी आवश्यकताओं को पूरा करेगी, या यह निर्बाध, समय पर और सुरक्षित होगी, और यह कि त्रुटियां, यदि कोई हों, को ठीक किया जाएगा। यहां उपलब्ध सभी सामग्री और जानकारी केवल सामान्य सूचना उद्देश्यों के लिए है। दिन के व्यापार के फायदे और नुकसान कोई भी कानूनी, वित्तीय या व्यावसायिक निर्णय लेने के लिए जानकारी पर भरोसा करने से पहले किसी पेशेवर से सलाह लें। इस जानकारी का सख्ती से अपने जोखिम पर उपयोग करें। वेबसाइट पर मौजूद किसी भी गलत, गलत या अधूरी जानकारी के लिए Khatabook जिम्मेदार नहीं होगा। यह सुनिश्चित करने के हमारे प्रयासों के बावजूद कि इस वेबसाइट पर निहित जानकारी अद्यतन और मान्य है, Khatabook किसी भी उद्देश्य के लिए वेबसाइट की जानकारी, प्रोडक्ट, सर्विसेज़ या संबंधित ग्राफिक्स की पूर्णता, दिन के व्यापार के फायदे और नुकसान विश्वसनीयता, सटीकता, संगतता या उपलब्धता की गारंटी नहीं देता है।यदि वेबसाइट अस्थायी रूप से अनुपलब्ध है, तो Khatabook किसी भी तकनीकी समस्या या इसके नियंत्रण से परे क्षति और इस वेबसाइट तक आपके उपयोग या पहुंच के परिणामस्वरूप होने वाली किसी भी हानि या क्षति के लिए उत्तरदायी नहीं होगा।

कारोबार में तरक्की और लाभ बढ़ाने के लिए आजमाकर दिन के व्यापार के फायदे और नुकसान देखें इन टोटकों को

व्‍यापार ठीक न चल रहा हो तो

यदि आपका व्‍यापार ठीक न चल रहा हो तो शुक्ल पक्ष के किसी भी दिन से एक उपाय शुरू कर सकते हैं। आपको केवल अपने व्यापारिक स्थल के दरवाजे के बाहर की ओर दोनों ही तरफ गेहूं का एक- एक मुट्ठी आटा डालना है। ध्‍यान रहें यह उपाय लगातार 1माह 13 दिन तक करना होगा। इससे व्‍यापार में लाभ होने के योग बनते हैं।

यदि व्यापार में दिक्‍कतें आ रही हों तो

यदि व्यापार में दिक्‍कतें आ रही हों तो

यदि व्‍यापार में कोई समस्‍या आ रही है तो आप किसी ऐसे कारोबार में सफल व्यापारी के यहां से शनिवार के दिन कोई लोहे की वस्तु अपने यहां ले आएं। इसके बाद अपने व्यापार स्थल पर किसी भी जगह हल्दी का स्वास्तिक बनायें। इसके बाद उस पर थोड़े से काली वाली साबुत उड़द रखें और उसके ऊपर वह लोहे की वस्तु रखें जो आप व्‍यापारी के यहां से लाए हों। इसके बाद आपके व्यापार में भी तरक्‍की होने लगेगी।

कारोबार में नुकसान हो रहा हो तो

कारोबार में नुकसान हो रहा हो तो

यदि आपको व्‍यवसाय में लगातार कोई नुकसान हो रहा हो या फिर हमेशा लड़ाई-झगड़ा होता रहता हो तो अपने वजन के बराबर कच्चा कोयला लें। उसको शनिवार के दिन बहते पानी में बहा दें। व्‍यवसाय में हो रहे नुकसान से छुटकारा मिल जाएगा।

व्‍यवसाय की बिक्री बढ़ानी हो तो

व्‍यवसाय की बिक्री बढ़ानी हो तो

अगर आपके व्‍यवसाय में बिक्री में नुकसान हो रहा हो तो ऐसी स्थिति में बिक्री बढ़ाने के लिये शुक्ल पक्ष के प्रथम शुक्रवार को पांच गोमती चक्रलें। इसके बाद उसे लाल वस्त्र में बांध कर अपनी दुकान की चौखट से बांध दें। इसके बाद ईश्‍वर से बिक्री बढ़ाने की प्रार्थना करें।

कर्मचारी स्थिर न हो रहे हों तो

Astrology दिन के व्यापार के फायदे और नुकसान Tips: व्यापार में लगातार हो रहा है नुकसान तो घबराएं नहीं, आज ही कर लें ये उपाय और देखें कमाल!

alt

6

alt

6

alt

6

alt

Business Loss: ठप व्यापार के साथ अगर बढ़ता जा रहा है कर्जा तो यह सरल उपाय देंगे लाभ, लक्ष्मी जी की होगी कृपा

टाइम्स नाउ डिजिटल

Business Loss

    दिन के व्यापार के फायदे और नुकसान
  • फिजूल खर्ची पर लगाम लगाए
  • समस्याएं उतपन्न होने पर ज्योतिषीय परामर्श लें
  • वैदिक उपायों का प्रयोग करें

Astro Solution for Business Loss: आजकल आपने बहुत से ऐसे लोगों को सुना होगा जो कहते हैं कि उनका व्यापार बहुत अच्छा चल रहा था परंतु पिछले कुछ समय से व्यापार में परेशानियां आ रही हैं। पहले बिक्री खूब अच्छी होती थी किंतु अचानक उस में गिरावट आ जाती है। लाभ का प्रतिशत भी घट जाता है और समस्या विकट हो जाती है। आप कुशल व्यवसाई हैं, व्यवसाय चलाने का अनुभव भी आपके पास है लेकिन अच्छे भले चलते व्यवसाय में अचानक रुकावट आ जाती है। अच्छा माल बेचते हैं, व्यवहार कुशल भी हैं लेकिन इतना सब होते हुए भी व्यापार निरंतर घाटे में चला जाता है। इन्हीं समस्याओं के चलते कर्ज भी सर पर बढ़ जाता है। क्योंकि व्यापारिक गतिविधियां निर्बल हो जाती है। सब कुछ इंसान के हाथ मे नही होता है। यह सब कर्म और नसीब पर भी आधारित होता है। हर व्यक्ति के जीवन में अच्छे बुरे दौर आते है। व्यापार की गति कम पड़ने की तमाम सारी वजह हो सकती है। अगर आपके भी दिन के व्यापार के फायदे और नुकसान व्यवसाय में समस्याएं आ रही है। तो आप भी इन उपायों के माध्यम से अपने द्वारा पोषित व्यापार को फिर से पटरी पर दिन के व्यापार के फायदे और नुकसान ला सकते है।

इस प्रकार की समस्या आपके साथ तो नही होती

आइए पहले जान लेते हैं अगर आपके व्यापार में किसी प्रकार का बंधन लगा हुआ है। तो व्यापार बहुत प्रभावित होता है। आप अपने ऑफिस या दुकान पर जाते हैं। तो मन आशंकित हो जाता है। तरह-तरह के डरावने विचार आने लगते हैं। व्यापार में मन नहीं लगता। दुकान में साफ सफाई पूजा पाठ करने का भी मन नहीं दिन के व्यापार के फायदे और नुकसान करता। दुकान में रखे हुए सामान पर जाले और धूल लगी रहती है। सफाई कभी कभी ही हो पाती है। ग्राहक आता है। लेकिन आपके व्यक्तित्व से वह प्रभावित नहीं हो पाता और आप उसको सन्तुष्ट नहीं कर पाते वह खाली हाथ चला जाता है। कमाई धीरे धीरे घटने लगती है। मन निराश होने लगता है। जहां से आप सामान लेकर आते हैं। वहां से संबंध खराब होने लगते हैं। अगर आपने उधारी की हुई है तो वह रुक जाती है। नए ग्राहक नहीं बन पाते। पिछले वाले टूटने लगते हैं। इन सब से व्यक्ति मानसिक रूप से इतना कमजोर हो जाता है। सुबह उठ कर दुकान खोलने जाने से भी कतराते है।

Astrology Tips: व्यापार में दिन के व्यापार के फायदे और नुकसान तरक्की पाने के लिए आजमाएं ये चमत्कारी उपाय, कुछ ही दिन में दिखेगा फर्क

By: ABP Live | Updated at : 29 Jan 2022 09:48 PM (IST)

Astrology Tips: हर व्यक्ति की चाह होती है कि उसका व्यापार खूब तरक्की करे. इसके लिए व्यक्ति कई तरह के उपाय करता है. दिन रात मेहनत करता है. इन दिनों हर दूसरा व्यक्ति बिजनेस न चलने से परेशान है. व्यापार न चल पाने के कारण उनमें ताले लग रहे हैं. व्यापार में मेहनत के दिन के व्यापार के फायदे और नुकसान साथ-साथ अगर कुछ छोटी बातों का ध्यान रखा जाए, तो इससे बिजनेस में लाभ होता है. बिजनेस की तरक्की और उन्नति के लिए वास्तु और ज्योतिष के कुछ उपायों के अपनाया जाए, तो बिजनेस में विशेष लाभ होता है.

यंत्र पूजन: मान्यता है कि यंत्रों का प्रभाव बहुत सकारात्मक पड़ता है. ज्योतिष अनुसार यंत्र की पूजा करने से व्यक्ति की आर्थिक स्थिति मजबूत होती है और जीवन में सुख आदि की प्राप्ति होती है. बिजनेस में लाभ और उन्नति पाने के लिए व्यापार वृद्धि यंत्र का पूजन किया जा सकता है. इस यंत्र को शुभ मुहूर्त देखकर स्थापित करें. इसकी स्थापना करने के लिए हर माह शुक्ल पक्ष के रविवार के दिन इस यंत्र की स्थापना करना शुभ होता है. बता दें कि इसकी पूजा करते समय ‘ऊँ श्री ह्रीं क्लीं महालक्ष्मै नम:’ का जाप करना न भूलें.

रेटिंग: 4.73
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 489
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *