विदेशी मुद्रा क्यू एंड ए

पिप का मान क्या है

पिप का मान क्या है

पिप का मान क्या है

ध्वनि का कोई सीमित स्पंद (उदाह .

ध्वनि का कोई सीमित स्पंद (उदाहरणार्थ सीटी की 'पिप) माध्यम में भेजा जाता है। यदि स्पंद दर 1 स्पंद प्रति 20 सेकण्ड है अर्थात् सीटी प्रत्यक 20 सेकंड के पश्चात् सेकण्ड के कुछ अंश के लिए बजती है, तो सीटी द्वारा उत्पन्न स्वर की आवृत्ति (1/20) हर्ट्स अथवा 0.05 हर्ट्स है?

Updated On: 27-06-2022

UPLOAD PHOTO AND GET THE ANSWER NOW!

Solution : प्रति 20 सेकण्ड में स्पन्द उत्पन्न होने का अर्थ यह नहीं कि सीटी की आवृत्ति 1/20 सेकण्ड या 0.05 हर्ट्ज होगी |इसका अर्थ यह है कि सीटी के बजने पर पुनरावृत्ति की आवृत्ति 0.05 Hz है।

Get Link in SMS to Download The Video

Aap ko kya acha nahi laga

कसम से पूछा गया है कि धोनी का कोई एक सीमित इस पल अर्थात संकरण स्थल कह सकते हैं सूचना समय के लिए उदाहरण के लिए सीटी की आवाज है यदि माध्यम में भेजी जाती है अब इस बंदर एक संतति 20 सेकेंड पर है 18 में क्या सकते हैं सिटी प्रत्येक 20 सेकंड के 50 सेकंड के कुछ अंश के लिए बचती हैं तो सिटी द्वारा उत्पन्न नश्वर की आवृत्ति एक अनुपात 20 हॉट या 0935 हॉट्स है कि नहीं यह पूछा गया अब हम किसी स्थान पर ध्वनि के लिए ध्वनि के लिए सीमित जो उसके माध्यम है सीमित स्थान की गणना करें समिति किसे कहेंगे कुछ अत्यंत अल्प समय के लिए धोनी का तन का उत्पन्न होना उसे कहा जाता है अब ध्वनि तरंगों के माध्यम पर निश्चित समय के लिए यदि गतिमान होती है धोनी तरंगों के रूप में उनकी कोई निश्चित चाल उनका एक निश्चित तरंगदैर्ध्य सिलेंडर से प्रेषित करें उनकी एक विशेष

आहुति जिसे एंड से प्रसिद्ध हम करते हैं या क्या कह सकते हैं यदि रहेंगे एक निश्चित समय पी के लिए गतिमान होती है उस समय 30 को है यदि शनि के रूप में ही प्रस्तुत कर दें या शिरडी के आसपास हिमालय तथा उसे संकेत संकेत ध्वनि तरंग संगीत ध्वनि तरंग में यह विशेषता होती है कि उसके लिए समय का माध्यम समय का मान काफी कम होता है इसलिए उसे हम स्थल के रूप में व्यक्त करते हैं समय के माध्यम कम होने से उसकी चाल तो जरूरी है परंतु उसका रंग दे रंग दे और आप भी जो कि समय के लिए महत्वपूर्ण है टंडन की नहीं होती है किसी भी धारी तरंगे इस बंद के लिए ऐसे हम संपूर्ण रूप से 3:00 तक भी कह सकते हैं अब जबकि प्रश्न में या कहा गया है कि इस बंदर को बंदर है 20 सेकंड 20 सेकंड

प्रतिबंध के बाद 28 स्थान पर इस कमाई सेकेंडरी पर लड़की से होता है तो सिटी द्वारा उत्पन्न स्वर्गीय सिटी द्वारा उत्पन्न सके आवृत्ति नहीं रहने वाली यदि आर्थिक हम एक अनुपात 20 सेकेंड से भी प्रस्तुत कर रहे हैं या इसे हम सभी सदस्यों ने 5 सेक्टर 58 स्वस्थ रहें तभी सिटी के स्वर की आवृत्ति नहीं रहने वाली चुकी है आती नहीं है केवल पुनरावृति है कि प्रत्येक प्रत्येक 20 सेकंड के पश्चात एक स्पंद यहां पर भड़के माध्यम द्वारा संपूर्ण रूप से भी लगाता है बस यही बताया गया तो हम यह नहीं कह सकते किसी के द्वारा उत्पन्न सर की आरती 19060 या 60586 धन्यवाद बल्कि इसके लिए हम यह कहेंगे कि यह कि केवल बंद है यदि वह इस समय के साथ पुनः व्यक्ति या एक समान समय पर बार-बार आवृत्ति होती

है तो उसे हम पुनरावृति कहते हैं यह केवल पुनरावृत्ति की है आवृत्ति है वह व्यक्ति अर्थात बार बार उसकी घटित होने की आवृत्ति को मत बता रहा है ना कि उत्पन्न हुए स्वर की आवृत्ति को धन्यवाद

पिप क्या है(प्वाइंट में प्रतिशत)

उनल में हम आपको पिप की अवधारणा से मिलवाएंगे - क्या और कैसे। कैसे पिप की गणना और मुद्रा जोड़े व्यापार में उपयोग किया जाता है। और यह उदाहरण पर दिखाएगा, तो सब कुछ स्पष्ट हो जाएगा। ये मुख्य विषय हैं, हम इस लेख में एक साथ पता लगाने जाएगा.

  • विदेशी मुद्रा व्यापार में पिप क्या है?
  • पिप्स की गणना कैसे की जाती है?
  • फोरेक्स पिप उदाहरण?

पिप क्या है

पिप "बिंदु में प्रतिशत" के लिए एक संक्षिप्त शब्द है - एक ट्रेडिंग इंस्ट्रूमेंट की कीमत में परिवर्तन की मानकीकृत इकाई। 1 पिप की गणना चौथे अंक 0.0001 द्वारा की जाती है.

व्यापार मुद्राओं में रुचि रखने वाले निवेशकों के लिए, यह समझना कि मुद्रा और बाजार आंदोलनों का विश्लेषण करने में पिप क्या है, एक महत्वपूर्ण तत्व है। यह उन्हें समग्र लागत और लाभ का निर्धारण करने में मदद करता है जो एक द्वारा उत्पन्न किया जा सकता है.

तम मुद्रा जोड़े की कीमत 4 दशमलव स्थानों पर होती है जिसमें पिप अंतिम दशमलव बिंदु का परिवर्तन होता है.

  • मुद्रा जोड़े के लिए 4 दशमलव स्थानों पर प्रदर्शित, एक पिप = 0.0001
  • अल्पित मुद्रा जापानी येन के साथ मुद्रा जोड़े के समूह के लिए, साथ ही साथ एक "कीमती धातुएं" समूह जो एक अपवाद हैं और केवल दो दशमलव स्थानों पर प्रदर्शित होते हैं, एक पिप= 0.01

अधिकांश मुद्रा जोड़ेके लिए, उदाहरण के लिए GBP/USD, यह 4 दशमलव स्थानों की शुद्धता के साथ रिकॉर्ड करने के लिए एक कन्वेंशन है (1 pip =0.0001) , और 5 दशमलव स्थानों की शुद्धता के साथ टर्मिनलों में व्यापार (1 तकनीकी pip = 0.00001) . फैलता है, आदेश दूरी और अंय मापदंडों कंपनियों की वेबसाइटों पर सामांय pips में दिखाया गया है, हालांकि इन कंपनियों के व्यापार टर्मिनलों में, उद्धरण 0.00001 की सटीकता के साथ संकेत दिया है । वहां उद्धृत मुद्रा जापानी येन के साथ मुद्रा जोड़े का एक समूह है, साथ ही साथ एक "कीमती धातुओं" समूह,-ऐसे उपकरणों में सामांय रंज 0.01 है, और तकनीकी रंज 0.001 है .

यहां एक उदाहरण के लिए यह पता लगाने की क्या एक 1 रंज परिवर्तन GBP/USD के लिए की तरह दिखेगा .

यह पता लगाने के लिए एक उदाहरण दिया गया है कि जीबीपी / यूएसडी जोड़ी के लिए 1 पिप परिवर्तन कैसा दिखता है.

मान लीजिए कि मुद्रा जोड़ी खरीद मूल्य वर्तमान में 1.32711 पर उद्धृत किया गया है। यदि कीमत 1.32711 से 1.32712 जिसका मतलब 1 तकनीकी पिप. की वृद्धि होगी। यदि कीमत 1.32711 से 1.32710की कमी होगी 1 तकनीकी पिप.

USD/JPY जोड़ी के लिए 1 पिप चाल 112.90 से 112.9 1 में बदल जाएगी क्योंकि दूसरा दशमलव बिंदु 1 से बदल गया है.

1 पिप मान उद्धृत मुद्रा (जोड़ी की दूसरी मुद्रा) में व्यक्त किया जाता है.

पिप का मान क्या है

ध्वनि का कोई सीमित स्पंद ( उद .

ध्वनि का कोई सीमित स्पंद ( उदाहरणार्थ सीटी का 'पिप') माध्यम में भेजा जाता है। (a) क्या इस स्पंद की कोई निश्चित (i) आवृत्ति, (ii) तरंगदैर्घ्य, (iii) संचरण की चाल है? (b) यदि स्पंद दर 1 स्पंद प्रति 20 सेकंड है अर्थात् सीटी प्रत्येक 20s के पश्चात् सेकंड के कुछ अंश के लिए बजती है, तो सीटी द्वारा उत्पन्न स्वर की आवृत्ति `((1)/(20)) `Hz अथवा 0.05 Hz है?

Updated On: 27-06-2022

UPLOAD PHOTO AND GET THE ANSWER NOW!

Solution : (a) सीटी का सीमित स्पंद अर्थात् स्पंद की न तो निश्चित तरंगदैर्ध्य और न ही निश्चित आवृत्ति है लेकिन एक अविवर्तन माध्यम में संचरण की चाल होती है। जो ध्वनि का वायु में वेग के तुल्य है।(b) नहीं, सीटी द्वारा उत्पन्न स्वर की आवृत्ति न तो ` (1)/(20)`और न ही 0.05 Hz है, अपितु यह 0.05 Hz सीटी की छोटी पिप की पुनरावर्त आवृत्ति है अर्थात् स्पंद।

Get Link in SMS to Download The Video

Aap ko kya acha nahi laga

हेलो दोस्तों मेरा प्रश्न है ध्वनि का कोई सीमित स्थान दो उदाहरण तरह सिटी का पेपर की ध्वनि ज्योति है मध्य में भेजा जाता है क्या यह स्पंद की कोई निश्चित आवृत्ति तरंग धैर्य सज्जन की चाल होगी और दूसरा विकल्प है दूसरा प्रश्न पूछा जा रहा है कि यदि as-15 एक-एक सेकंड एक-एक प्रति सेकंड है अर्थात सिटी प्रत्येक 20 सेकंड के पश्चात सेकंड के कुछ अंश के लिए बस्ती है तू सिटी द्वारा उत्पन्न सॉरी की आवृत्ति 1 बटा 20 वर्ष अथवा 01605 शहर से हमें बताना है कि ऐसा है या नहीं है ठीक है देखो स्पंद जो यहां पर बोला जरा सी में 10 पर मतलब जो संख्या में जो मतलब कम आवृत्ति किसे ध्वनि होती है जो कम समय के लिए बचती है ठीक है उसी को हम लोग इस पद या फिर क्या कहते हैं विस्पंद क्या तुम इस बंद को गर्म समझते हैं तो मान लो कि कोई सिटी है ठीक है और सिटी के द्वारा जो ध्वनि उत्पन्न हो रही है वह क्या होता है कि जैसे हम मान लो कि आप

ठीक है कि सिटी उत्पन्न कर रही है तो क्या होता है कि पिप का मान क्या है इससे जो निकली ध्वनि तरंगे होती है ठीक है धोनी तरंगे क्या होती है कि जो अलग-अलग ध्वनि तरंगें जब निकलती है तो उसकी आवाज में जरूरी नहीं है कि जितनी भी ध्वनि तरंगें निकलती है सब की आवृत्ति क्या होगी वह समारोह ठीक है वह अलग अलग आवृत्ति की में ध्वनि तरंगें उत्पन्न कर सकते थे क्योंकि जो भी बोले जा रहा है कि आपकी आवाज तो कभी-कभी क्या होती है उसका जो दारू जो बीच होता है वह कभी-कभी क्या होता है ज्यादा होता है और कभी-कभी क्या होता है कम होता है तो पीछे जो होता है वह क्या होता है कि ध्वनि तरंग की आवृत्ति पर निर्भरता होती है उसकी अगर मान लो कि एक के दो ही तरीके निकाल रही है और दूध होनी तरह इस तरह से माध्यम में संचालित हो रहा है इसके लिए आवृत्ति मालूम है और इसके लिए आवृत्ति अक्टूबर बता बस्तियों में क्या अंतर है ठीक तो जब यह मध्य में संचालित होते हैं तो मध्य में क्या होता है इनका एक ही जमजम संचालित हो रहे होते हैं तो इसके कारण क्या होता है किन का अध्यारोपण होता है ऐसा व्यतिकरण होता है और अध्यारोपण के फल

सरूप हमें क्या मिलती है अलग-अलग तर्क था कि ध्वनि तरंग मिलती है ठीक है तुझे से हम लोग क्या कहते हैं विस्पंद कहते हैं कि हर एक बिंदु पर कभी तो किसी एक समय के पश्चात हमें क्या मिलती है कि अधिक तीव्रता कितनी प्राप्त होती है और कभी क्या होती कम कविता की दूरी प्राप्त होती है ठीक है इसके लिए तो सबसे पहले तो यहां पर देखो बोला जा रहा है क्या इस स्पंद की कोई निश्चित अवधि या तरंग देर हो गई आवृत्ति निश्चित नहीं हो सकती क्योंकि अलग-अलग ध्वनि तरंग निकलेगी और अलग-अलग पिचका निकलते हैं तो अलग-अलग क्या होगी उसकी आवृत्ति होगी ठीक है अभी क्या होगी अलग रखो कि ठीक है अब अगर आवृत्ति अलग अलग हो रही है तो तरफदारी का मान भी क्या होगा अलग होगा ठीक है क्योंकि आवृत्ति और तर्क देने में क्या होता है संबंध होता है दोनों एक दूसरे के भीतर मानुपाती होता है अगर हमें आवृत्ति अलग-अलग प्राप्त हो रही है तो तक देने का भी मान भी हमें अलग-अलग तो ठीक है लेकिन संचरण की चाल हम मान सकते हैं कि क्या है वह हमारा वह क्या है एक निश्चित है क्योंकि जब ध्वनि तरंग भाइयों में संचालित होती है तो वह जो भाइयों की जो

होती है और धोनी की जो चालू होती है वह तो उन दोनों का क्या माना जाता है तुल्य माना जाता है कि भाइयों के बीच से ही धोनी का क्या हो रहा है वह जा रहा है ठीक है जब वायु माध्यम में होता है तो वहां पर हम कह सकते हैं कि किसी एक निश्चित माध्यम में ध्वनि की चाल होती है वह एक निश्चित मान हमें दे सकता है ठीक है तो चार्ज हो जाएगी ध्वनि कि वह क्या हो जाएगी जसवंत की जो चालू हो जाएगी वह क्या हो जाएगी निश्चित चाची के मध्य में चलेगी ठीक है अब बोलो जाने कि यदि स्थान पर एक सेकंड एक सेकंड में मतलब एक 20 सेकंड में हमें एक स्तन सुनाई दे रहा है तो देखो क्या होता है कि अगर हम इस बंद के लिए मान ज्ञात करना होता है इसके लिए हम इन दोनों के इन दोनों तरंगों की आवृत्ति ओं का जो अंतर होता है यानी एप्पल माने सेब तू यही हमें क्या देता है इस बंद का मान्यता है ठीक है 20 सेकंड में एक संदेश में रहता है मतलब हर एक स्पंदन स्पंदन रहा है 20 सेकंड के बाद एक स्पंकी पूर्ण आवृत्ति होती है क्या होती है पूर्ण अमृत

पुण्यतिथि का अर्थ है कि हर एक 20 सेकंड के बाजू यह सिटी का जो पेपर की जो ध्वनि है वह हर एक भी सेकंड के बाद अपने आपको क्या करेंगे दौरा है कि ठीक है फिर वही अमेजिंग ध्वनि वह करेगी तो उस पर जो मतलब होता है वह क्या होता है कि जो भी ध्वनि तरंगें निकलती है उनकी जो आकृतियों का जो अंतर होगा मतलब वह एक आवृत्ति का जो अंतर है वह 20 सेकंड के बाद अपने आप को दौरा है कि पूर्ण आवृत्ति करेगी ठीक है इसलिए जो हमें पता चलता है तो उससे हमें ध्वनि की मूल आवृत्ति जो उत्पन्न कर रही है उसका हमें पता नहीं चलता है या एक क्या होती है पूर्ण आवृत्ति होती है ठीक है एक बटा 20 सेकंड जो भी बोला कि तू सिटी द्वारा उत्पन्न सर की आवृत्ति 1 बटा 20 सेकंड अथवा सुंदर समरक्षण पास हर्ष है कि यह नहीं हो सकता है क्यों नहीं हो सकता है क्योंकि 1 सेकंड में एक बंद का मतलब है कि वह जो ध्वनि तरंगें अपनी ध्वनि को 1 सेकंड के बाद पूर्ण आवृत्ति कर रही है खुद और आ रही है ठीक है धन्यवाद

पिप का मान क्या है

ध्वनि का कोई सीमित स्पंद ( उद .

ध्वनि का कोई सीमित स्पंद ( उदाहरणार्थ सीटी का 'पिप') माध्यम में भेजा जाता है। (a) क्या इस स्पंद की कोई निश्चित (i) आवृत्ति, (ii) तरंगदैर्घ्य, (iii) संचरण की चाल है? (b) यदि स्पंद दर 1 स्पंद प्रति पिप का मान क्या है 20 सेकंड है अर्थात् सीटी प्रत्येक 20s के पश्चात् सेकंड के कुछ अंश के लिए बजती है, तो सीटी द्वारा उत्पन्न स्वर की आवृत्ति `((1)/(20)) `Hz अथवा 0.05 Hz है?

Updated On: 27-06-2022

UPLOAD PHOTO AND GET THE ANSWER NOW!

Solution : (a) सीटी का सीमित स्पंद अर्थात् स्पंद की न तो निश्चित तरंगदैर्ध्य और न ही निश्चित आवृत्ति है लेकिन एक अविवर्तन माध्यम में संचरण की चाल होती है। जो ध्वनि का वायु में वेग के तुल्य है।(b) नहीं, सीटी द्वारा उत्पन्न स्वर की आवृत्ति न तो ` (1)/(20)`और न ही 0.05 Hz है, अपितु यह 0.05 Hz सीटी की छोटी पिप की पुनरावर्त आवृत्ति है अर्थात् स्पंद।

Get Link in SMS to Download The Video

Aap ko kya acha nahi laga

हेलो दोस्तों मेरा प्रश्न है ध्वनि का कोई सीमित स्थान दो उदाहरण तरह सिटी का पेपर की ध्वनि ज्योति है मध्य में भेजा जाता है क्या यह स्पंद की कोई निश्चित आवृत्ति तरंग धैर्य सज्जन की चाल होगी और दूसरा विकल्प है दूसरा प्रश्न पूछा जा रहा है कि यदि as-15 एक-एक सेकंड एक-एक प्रति सेकंड है अर्थात सिटी प्रत्येक 20 सेकंड के पश्चात सेकंड के कुछ अंश के लिए बस्ती है तू सिटी द्वारा उत्पन्न सॉरी की आवृत्ति 1 बटा 20 वर्ष अथवा 01605 शहर से हमें बताना है कि ऐसा है या नहीं है ठीक है देखो स्पंद जो यहां पर बोला जरा सी में 10 पर मतलब जो संख्या में जो मतलब कम आवृत्ति किसे ध्वनि होती है जो कम समय के लिए बचती है ठीक है उसी को हम लोग इस पद या फिर क्या कहते हैं विस्पंद क्या तुम इस बंद को गर्म समझते हैं तो मान लो कि कोई सिटी है ठीक है और सिटी के द्वारा जो ध्वनि उत्पन्न हो रही है वह क्या होता है कि जैसे हम मान लो कि आप

ठीक है कि सिटी उत्पन्न कर रही है तो क्या होता है कि इससे जो निकली ध्वनि तरंगे होती है ठीक है धोनी तरंगे क्या होती है कि जो अलग-अलग ध्वनि तरंगें जब निकलती है तो उसकी आवाज में जरूरी नहीं है कि जितनी भी ध्वनि तरंगें निकलती है सब की आवृत्ति क्या होगी वह समारोह ठीक है वह अलग अलग आवृत्ति की में ध्वनि तरंगें उत्पन्न कर सकते थे क्योंकि जो भी बोले जा रहा है कि आपकी आवाज तो कभी-कभी क्या होती है उसका जो दारू जो बीच होता है वह कभी-कभी क्या होता है ज्यादा होता है और कभी-कभी क्या होता है कम होता है तो पीछे जो होता है वह क्या होता है कि ध्वनि तरंग की आवृत्ति पर निर्भरता होती है उसकी अगर मान लो कि एक के दो ही तरीके निकाल रही है और दूध होनी तरह इस तरह से माध्यम में संचालित हो रहा है इसके लिए आवृत्ति मालूम है और इसके लिए आवृत्ति अक्टूबर बता बस्तियों में क्या अंतर है ठीक तो जब यह मध्य में संचालित होते हैं तो मध्य में क्या होता है इनका एक ही जमजम संचालित हो रहे होते हैं तो इसके कारण क्या होता है किन का अध्यारोपण होता है ऐसा व्यतिकरण होता है और अध्यारोपण के फल

सरूप हमें क्या मिलती है अलग-अलग तर्क था कि ध्वनि तरंग मिलती है ठीक है तुझे से हम लोग क्या कहते हैं विस्पंद कहते हैं कि हर एक बिंदु पर कभी तो किसी एक समय के पश्चात हमें क्या मिलती है कि अधिक तीव्रता कितनी प्राप्त होती है और कभी क्या होती कम कविता की दूरी प्राप्त होती है ठीक है इसके लिए तो सबसे पहले तो यहां पर देखो बोला जा रहा है क्या इस स्पंद की कोई निश्चित अवधि या तरंग देर हो गई आवृत्ति निश्चित नहीं हो सकती क्योंकि अलग-अलग ध्वनि तरंग निकलेगी और अलग-अलग पिचका निकलते हैं तो अलग-अलग क्या होगी उसकी आवृत्ति होगी ठीक है अभी क्या होगी अलग रखो कि ठीक है अब अगर आवृत्ति अलग अलग हो रही है तो तरफदारी का मान भी क्या होगा अलग होगा ठीक है क्योंकि आवृत्ति और तर्क देने में क्या होता है संबंध होता है दोनों एक दूसरे के भीतर मानुपाती होता है अगर हमें आवृत्ति अलग-अलग प्राप्त हो रही है तो पिप का मान क्या है तक देने का भी मान भी हमें अलग-अलग तो ठीक है लेकिन संचरण की चाल हम मान सकते हैं कि क्या है वह हमारा वह क्या है एक निश्चित है क्योंकि जब ध्वनि तरंग भाइयों में संचालित होती है तो वह जो भाइयों की जो

होती है और धोनी की जो चालू होती है वह तो उन दोनों का क्या माना जाता है तुल्य माना जाता है कि भाइयों के बीच से ही धोनी का क्या हो रहा है वह जा रहा है ठीक है जब वायु माध्यम में होता है तो वहां पर हम कह सकते हैं कि किसी एक निश्चित माध्यम में ध्वनि की चाल होती है वह एक निश्चित मान हमें दे सकता है ठीक है तो चार्ज हो जाएगी ध्वनि कि वह क्या हो जाएगी जसवंत की जो चालू हो जाएगी वह क्या हो जाएगी निश्चित चाची के मध्य में चलेगी ठीक है अब बोलो जाने कि यदि स्थान पर एक सेकंड एक सेकंड में मतलब एक 20 सेकंड में हमें एक स्तन सुनाई दे रहा है तो देखो क्या होता है कि अगर हम इस बंद के लिए मान ज्ञात करना होता है इसके लिए हम इन दोनों के इन दोनों तरंगों की आवृत्ति ओं का जो अंतर होता है यानी एप्पल माने सेब तू यही हमें क्या देता है इस बंद का मान्यता है ठीक है 20 सेकंड में एक संदेश में रहता है मतलब हर एक स्पंदन स्पंदन रहा है 20 सेकंड के बाद एक स्पंकी पूर्ण आवृत्ति होती है क्या होती है पूर्ण अमृत

पुण्यतिथि का अर्थ है कि हर एक 20 सेकंड के बाजू यह सिटी का जो पेपर की जो ध्वनि है वह हर एक भी सेकंड के बाद अपने आपको क्या करेंगे दौरा है कि ठीक है फिर वही अमेजिंग ध्वनि वह करेगी तो उस पर जो मतलब होता है वह क्या होता है कि जो भी ध्वनि तरंगें निकलती है उनकी जो आकृतियों का जो अंतर होगा मतलब वह एक आवृत्ति का जो अंतर है वह 20 सेकंड के बाद अपने आप को दौरा है कि पूर्ण आवृत्ति करेगी ठीक है इसलिए जो हमें पता चलता है तो उससे हमें ध्वनि की मूल आवृत्ति जो उत्पन्न कर रही है उसका हमें पता नहीं चलता है या एक क्या होती है पूर्ण आवृत्ति होती है ठीक है एक बटा 20 सेकंड जो भी बोला कि तू सिटी द्वारा उत्पन्न सर की आवृत्ति 1 बटा 20 सेकंड अथवा सुंदर समरक्षण पास हर्ष है कि यह नहीं हो सकता है क्यों नहीं हो सकता है क्योंकि 1 सेकंड में एक बंद का मतलब है कि वह जो ध्वनि तरंगें अपनी ध्वनि को 1 सेकंड के बाद पूर्ण आवृत्ति कर रही है खुद और आ रही है ठीक है धन्यवाद

रेटिंग: 4.66
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 852
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *